संस्थान

हिमालय की शिवालिक श्रृंखला में बसा, महानगरों के कोलाहल से सुदूर एक नूतन शिक्षण संस्थान का उदय हुआ है । हिमाचल प्रदेश में हिमालयन रिजार्ट कुल्लू, जिसे पहले मानव आवासीय संसार की आखिरी सीमा माना जाता था, से कुछ घंटों की दूरी पर नवोदित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान विकसित हो रहा है । यह स्थान कमांद पर्वत के अरण्य में ब्यास की सहायक नदी उह्ल नदी के किनारे पर है जहां से ऐतिहासिक शहर मण्डी 12 कि.मी. दूर है ।

कमांद परिसर में नैसर्गिक भव्यता तथा उच्च गुणवत्तापूर्ण जीवन के साथ विश्व स्तर का शैक्षणिक पर्यावरण स्थापित किया जाएगा । इसमें नवीनतम शिक्षण कक्षों, प्रयोगशालाओं एवं पुस्तकालयों, खेल-कूद एवं पाठ्यक्रमेतर सुविधाएं, सभी प्राध्यापकों एवं विद्यार्थियों के लिए परिसरीय आवासीय व्यवस्था, अतिथियों के लिए अतिथि गृहों, एक खरीदारी केंद्र (शॉपिंग सेंटर) एवं एक विद्यालय की स्थापना की जाएगी ।

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मंडी, संक्षिप्त विवरण

.